Home Blog Share Market Basics: Stock Market | In Hindi

Share Market Basics: Stock Market | In Hindi

0
Share Market Basics For Beginners
Share Market Basics For Beginners

What Is Share Market and How it Works?

हेल्लो, आज की पोस्ट में Share और Stock Market क्या होते है और Stock Market कैसे काम करता है हम ये समजेंगे Company को Expansion के लिए और Grow  होने के लिए यानी अपना Business  बढ़ाने के लिए Fund यानी पैसो की जरुरत होती है और पैसे Raised करने के लिए यानी पैसे उठाने के अलग अलग तरीके होते है जैसे की Angel Investors या Venture Capital  से पैसा उठाना Bank  के किसी Institution से Loan लेना Stock Market से यानी Public से पैसा उठाना तो पैसा उठाने के ये जो भी तरीके है बो इन दो Category में Divide होते है।

  • Debt Financing
  • Equity Financing
Share Market Basics For Beginners
Share Market Basics For Beginners
What is Debt Financing

Debt यानी कर्ज Debt Financing से लिया हुआ पैसा कुछ Time बाद Company को जहाँ से  उन्होंने वह पैसा उठाया है उन्हें वापस करना होता है और साथ में Interest यानी ब्याज भी देना होता है Debt Financing का Best उदहारण  है Bank से लिया हुआ Loan जब Company Bank से Loan लेती है तब Company को वह पैसा ब्याज के साथ वापस करना होता है वहीं जब Company Equity Financing के जरिए जैसे कि Angel Investors Venture Capital  या Stock Market से पैसा उठाती है तब Company को ना वह पैसा Return करना होता है ना ही उस पर ब्याज देना होता है अगर Company पैसे Return नहीं कर रही है ब्याज भी नहीं दे रही है तो फिर Company सभी  Investors को उनसे लिए हुए पैसों के बदले में क्या दे रही है।

What is Equity Financing

Equity Financing के जरिए उठाए हुए पैसों के बदले में Company Investors को हिस्सेदारी देती है जिससे Company को Investors से Fund मिल जाता है और Investors उस Company में भागीदारी बन जाते हैं जब कोई Company Stock Market से Fund Raised करती है तो वह Equity Financing होती है Stock Market Investors के लिए एक ऐसा Plateform है जहां पर कोई भी शख्स चाहे वह गरीब हो या अमीर Share खरीद सकता है और उस Company में भागीदारी बन सकता है और Stock Market Company के लिए एक ऐसा Platform है जहां पर Company Public से Fund Raised कर सकती है।

READ MORE :- Invest Rs.500  Per Month And Get 1.55 crore Rs.

What IPO: Initial Public Offering & How to Invest|Works?

Share Market Basics For Beginners
Share Market Basics For Beginners

तो जितनी भी Company Stock Market  में हैं उन्होंने Public  से Fund उठाया है और उसके बदले में Public  को Company ने भागीदारी दी है और ऐसी Company को Public  Company कहते हैं जब Company पहली बार Public  से Raised करती है तो उसे IPO (Initial Public Offering) कहते हैं IPO में Company Public  से पैसा उठाती है और उसके बदले मैं लोगों को Company में  हिस्सेदारी मिलती है IPO में सीधे Company और Investor के बीच Transaction होती है IPO में Company Investors  से पैसे लेती है और उसके बदले में Company उन्हें भागीदारी बनाती है। उदाहरण मार्च 2017 में DMart जो कि एक Super Market चेन है इसके Parant Company Avenue Supermart का IPO आया था।

Avenue Supermart से IPO ने Public  से 1870  करोड़ रुपए उठाए थे और उसके बदले में Investors  को Company हमें करीब 10 % हिस्सेदारी दी  थी तो आप Company के जितने Share खरीदते हो उस परपोसन  में Company मैं आपको हिस्सेदारी मिलती है IPO में Company Investment Bank के साथ मिलकर Share की Price बैंक Decide करती है IPO 3 से 10  दिनों के लिए खुला रहता है और इन 3 दिनों में Investor को उस Company के Share Subscribe करने होते हैं उसके बाद Share के Allotment यानी वितरण होता है IPO में आप सिर्फ Company से Share खरीद सकते हैं उन्हें बेच नहीं सकते Share बेचने के लिए आपको वह Stock Stock Exchange पर List होने का इंतजार करना होता  है।

What Is Stock Exchange And Its Functions?

IPO में Share के Allotment होने के कुछ ही दिन बाद वह Stock, Stock Exchange पर List हो जाता है और Stock Exchange पर List होने के बाद अब IPO में खरीदे हुए Share Stock Exchange पर बेंच सकते हो और जिन Investors को वह Share खरीदने हैं वह Investor-stock Exchange पर आपसे वह Share खरीदेंगे और उस Company में भागीदारी बन जाएगे  जब आप अपने Share बेचते  हो तो उस Company की हिस्सेदारी Share खरीदने वाले Investors को Transfer हो जाती हैं इस तरह Company ने IPO में Issue किए हुए Share Stock Exchange पर लोगों के बीच Exchange होते हैं।

READ MORE:- How to become rich in 2020? Your 3 Step Financial Plan | Rich Dad Poor Dad

Share Market Basics For Beginners
Share Market Basics For Beginners

Stock Exchange पर जो Transaction होती है वह Investors के बीच होते हैं उसमें Company शामिल नहीं होती Ipo में जब आप Share खरीदते हो तो आप सीधे Company से Share खरीदते हो वही जब आप Stock Exchange पर Share खरीदते  हो तब आप किसी और Investor से Share खरीदते हो यानी कि Stock Exchange पर पैसे और Share Investor के बीच Exchange यानी अदला-बदली होते हैं उदाहरण Avenue Supermart की Anacial Public  Offering यानी Ipo मार्च 2017 में हो चुका है।

Avenue Supermart [IPO]

Avenue Supermart का IPO 8,9,10  मार्च 2017 इन दिनों के लिए खुला था यानी इन 3 दिनों में Investors को Avenue Supermart के Share Subscribe करने थे 16 मार्च को Avenue Supermart की Allotment हुई और 21 मार्च को Avenue Supermart का  Stock, Stock Exchange पर List हो गया Avenue Supermar का Stock, Stock Exchange पर List होने के बाद यानी 21 मार्च से  Avenue Supermart के Share लोगों के बीच Exchange हो रहे हैं Stock Exchange Share खरीदने बालो  को और Share बेचने बालो  को मिलाता है और Stock Exchange पर Buyer और Seller के बीच Share का लेनदेन होता है और यह सारा System Online है आप घर बैठे या कहीं से भी Share Buy या Sell कर सकते हैं।

Stock Exchange Automatic Order Matching System का इस्तेमाल करता है जब Buyer और Seller के Order Match हो  जाते हैं तो बो Transaction पूरा  हो जाता  है Avenue Supermart ने IPO के जरिए लोगों से Fund उठाया और लोगों को Company के Share दिए फिर Avenue Supermart का Stock Stock Exchange पर List होने के बाद बो  Share अब लोगों के बीच ही Exchange हो रहे हैं उदाहरण अगर आप आज Avenue Supermart के Share खरीद रहे हो तो आप किसी और Investor के Avenue Supermart के Share खरीद रहे हो और आपने Share खरीदने के लिए जो पैसे Invest किए है बो  पैसे आप जिस Investor से Share खरीद रहे हो  उसे मिलते हैं चाहे आप IPO में Share खरीदो या Stock Exchange पर

READ MORE:- Why Mutual Funds Are The Best Way To Start Investing

How To Buy Shares In Share Market?

demat-account-trading-account
demat-account-trading-account

Share खरीदने के लिए आपको पहले किसी Stock Broker Form के साथ Demate  Account खोलना होगा क्योंकि Stock  Market में Invest करने के लिए Demat Account Compulsory होता है Stock Broker Form Mediator यानी मध्यस्त होते हैं जिनके जरिए आप Share Buy ओर Sell कर सकते हो  बदले में आपको Broker Form में कुछ  Charges देने होते हैं Demat Account Saving Account की तरह ही होता है जैसे Saving Account में पैसे रखे जाते हैं वैसे ही Demat Account में Share रखे जाते हैं Demat Account के साथ एक और Account होता है उसे Trading Account कहते हैं।

What Is Demat Account And Trading Account And Difference?

Trading Account के जरिए Share Buy और Sell किए जाते हैं और Buy किए हुए Share Demat Account में रखे जाते हैं तो Demat Account खरीदे हुए Share को Store करने का काम करता है Trading Account और Demat Account अलग-अलग खोलने की जरूरत नहीं  होती है क्योंकि Demat Account के साथ ही Trading Account खुल जाता है Demat Account खोलने के लिए कुछ  Basic Documents की जरूरत होती है जैसे कि Pancatrd, Address Proof Aadharcard, Voting Card, Bank Passbook की Copy या Cancel Cheque, Demat Account खोलने के बाद आप 3 तरह से Share Buy ओर Sell कर सकते है

  1. Stock Exchange मोबाइल फोन के जरिए
  2. Website या Software के जरिए [ Stock Broker Form की ]
  3. Stock Broker Form  को कॉल लगा कर यानी आप सीधे Broker को कॉल लगा कर

आपको जो Share Buy या Sell करने हैं वह Share उन्हें अपने Account में Buy या Sell करने को कह सकते हैं कुछ Broker के Form के साथ आप Trading Account में Minimum Amount Mainten करने की जरूरत नहीं होती है तो  किसी ऐसे  Broker Form के साथ Account Open करके  आप छोटी Amount से भी Stock Market में Investment शुरू कर सकते हैं और हां Demat Account किसी ऐसे Broker Form के साथ खोलिए जिनकी Service अच्छी हो और आपकी Requirement से Match होती हो और उनके Charges भी आपके लिए ठीक होने चाहिए तो आप अपने Trading Account के जरिए।

What Is Sensex(BSE) And Nifty(NSE)?

What Is Stock Market Timings In India?

Sensex(BSE) And Nifty(NSE)
Sensex(BSE) And Nifty(NSE)

Stock Market के Timing मैं यानी सुबह 9:15 Am से 3:30 Pm तक Stock Exchange पर आसानी से Share खरीद और बेंच सकते हो  इंडिया के दो  मुख्य Stock Exchange है  Nse National Stock Exchange और  Bse  Bombay Stock Exchange Nse पर 1600 से ज्यादा Company List है और Bse पर 5500 से ज्यादा Company List है तो Stock Market का हाल जानने  के लिए इन सारे Stocks का  ट्रैक करना यानी इन सारे Stocks पर नजर रखना मुमकिन नहीं है इसलिए Indasense बनाए गए हैं जैसे कि Sensex और Nifty Sensex Bse यानी  Bombay Stock Exchange का मुख्य  Index है।

Sensex And Nifty

Sensex शब्द Sensitive और Index इन दो शब्द को मिलाकर बना है Sensex अलग-अलग Sittars के  30 Well Established  और अच्छे Track  Record  वाली Company से बना है और Sensex की Moment यानी  चाल Sensex में शामिल यानी 30 Stocks Performance पर Depand होती है वही Nifty Nse का मुख्य Index यानी  निर्देशक है Nifty ये शब्द National +Fifty  इन दो शब्दो से बना है Fifty इसलिए क्यूंकि Nifty में Fifty Company शामिल है Nifty में 50 Well Established और अच्छे Track Record वाली Company शामिल है Nifty की Moment यानी चाल Nifty में शामिल इन 50 Stocks  Performance पर  Depand होती है Nifty और Sensex में शामिल जो Company है बो लगभग सारे अलग अलग Sectors जैसे की

  • Pharma
  • It
  • Energy
  • Telecon
  • Financial Services
Sensex(BSE) And Nifty(NSE)
Sensex(BSE) And Nifty(NSE)

इनसे चुनी गई होती है और अपने अपने Sector को Leader Company होती है इस तरह Nifty और Sensex में अलग अलग Sector Cover हो जाते है इसीलिए Nifty और  Sensex का जो Performance है वही Stock Market का  Performance समजा जाता है और सारे  Stocks को Track किये बिना लोग Sensex और Nifty को देखकर Stock Market का हाल जान लेते है  और जब Sensex Nifty वड जाते है तब हम कहते है की Stock Market  अच्छा चल रहा है और जब Sensex और Nifty गिर जाते है तब हम कहते है की Stock Market ख़राब चल रहा है Investment तो हर कोई  Return कमाने के लिए ही करता है Stock Market में Invest करके Investors को किस तरह Return मिलता है।

Dividend

Stock Market में Invest करने से दो तरह से फायदा मिल सकता है Dividend और  Capital  Appreciation Company जब अपने Profit का कुछ हिस्सा Share Holders के साथ सेयर करती है तो उसे  Dividend कहते है वैसे Share Holders को Dividend देना Company के लिए Compulsory नहीं होता है  Share Holders को Dividend देना है या नहीं  ये Design पूरी तरह Company के Board Of Directors पर Depend होती है In Sort Dividend Income पर आप ज्यादा Depend नहीं रहे सकते Esualy होती और Grosstch की Company Dividend नहीं देती है बो अपना Profit Company की Growth में ही Invest करना पसंद करते है।

READ MORE:- These six habits prevent you from becoming rich

What Is Capital Appreciation In Share Market?

अब Capital  Appreciation की बात करते है Capital  Appreciation मतलब Share Price वडने से आपकी Investment Value का बढ़ना / मान लीजिये ये कुछ दो साल पहले आपने Abc Company नाम का एक Share खरीदा था और जब आपने Invest  किया था तब Abc Company की Price 1000 रुपये थी और आये उस Share  की  Price 1600 रुपये है तो आपकी Investment Value में हुई 600 रुपये की बचत को Capital  Appreciation कहते है।

stock-market
Analysis

Capital  Appreciation– Stock Market में पैसा कमाने का मेन Source  है Long Term में Share  Price  की Growth  को Follow करती है तो जब Company अच्छा Perform  करती है और Company की लगातार  Growth हो रही है तब उसकी Market Value बढ़ जाती है और उस Stock को Share  Price बढ़  जाती है वैसे ही जब Company ख़राब Performance करती है तब उसकी Market Value कम हो जाती है और Stock के Share  Price कम हो जाती है तो आपका मैन Focus यही रहना चाइये की कैसे आप Capital  Appreciation से अच्छे Profit कमा सकते हो और उसके लिए आपको अच्छा खासा  Analysis करना होगा।

अगर आपका शेयर मार्किट से रिलेटेड कोई भी प्रश्न हो तो हम से कॉमेंट के जरिये जरूर पूछिए। और इसे आप शेयर भी कर सकते है (यह सब फ्री है।)

DISCLAIMER: Investment/Trading In Securities Market Is Subject To Market Risk.